लाभार्थी को मिलेंगे 1 लाख रुपये बीमा योजना के तहत| rajiv Gandhi parivaar bima yojna 2022 update

 rajiv Gandhi parivaar bima yojna

राजीव गांधी परिवार बीमा योजना 2022 एक ऐसी बीमा योजना है जो की परिवार बीमा से  सबंधित है इस योजना के तहत आप अपने परिवार का बीमा करवा सकते हैं  हर राज्य में इस प्रकार की योजनाएं चलाइ जाती हैं हम आपको इसी तरह की एक योजना (rajiv Gandhi parivaar bima yojna) के बारे में बताना चाहते हैं जिसमे परिवार का बीमा कर लाभ दिया जाता है.

राजीव गांधी परिवार बीमा योजना 2022 योजनाए मुख्य रूप से हरियाणा के लिए लागू की गई है इस योजना की शुरुआत 2006 में की गई थी (rajiv Gandhi parivaar bima yojna) के तहत स्थानीय निवासी पूरे परिवार का बीमा करवा सकते हैं  परिवार के एक पूर्व सदस्य की मृत्यु  अप्राकृतिक रूप से होती है तो परिवार को एक लाख रुपये की राशि प्रदान  की जाती है इसमे अलग अलग शती के लिए अलग राशि प्रदान  की जाती है.
लाभार्थी को मिलेंगे 1 लाख रुपये बीमा योजना के तहत| rajiv Gandhi parivaar bima yojna 2022 update
rajiv-ghandhi-parivaar-bima-yojna
 

राजीव गांधी परिवार बीमा योजना 2022 पात्रता

राजीव गांधी परिवार बीमा योजना मुख्य रूप से हरियाणा सरकार द्वारा चलाइ गई योजना है आवेदक मूलरूप से हरियाणा का निवासी होना चाहिए। इसके तहत लाभ 18 से 60 वर्ष के लोगो को ही पात्र माना जाएगा। दुर्घटनाग्रस्‍त व्‍यक्ति का नाम वोटर लिस्‍ट या राशन कार्ड में जुडा होना चाहिए। आवेदक की वार्षिक आय 2.5 लाख रूप से अधिक नही होनी चाहिए ये सब पात्रता पूरी होने पर आप इस योजना का लाभ ले सकते हैं.कितना मिलेगा लाभ योजना के तहत मिलने वाला लाभ अलग – अलग निर्धारित मानदंडो के हिसाब से दिया जाता हैं जो नीचें बताए अनुसार हैं।

  1. दुर्घटना में मृत्‍यु होने पर आश्रितो को 1 लाख रूपए की राशि प्रदान की जाती हैं।
  2. दो अंगो की कमी दो आंखे व एक अंग खराब होने पर 50000 रूपए दिए जाते हैं।
  3. यदि एक आंख व एक अंग क्षतिग्रस्‍त होता हैं तो 25000 रूपए की राशि प्रदान की जाती हैं।

योजना का उद्देंश्‍य

हर एक योजना की शुरुआत जनसाधारण के कल्याण और किसी लक्ष्य को पूरा करने के लिए की जाती है अर्थात हर योजना का कोई ना कोई उदेश्य होता है
दुर्गहटना मे कई बार बड़े बड़े हादसे हो जाते हैं जिसमे परिवार को बहुत बड़ी 
हानी होती है ऐसी स्थिति को देख ही सरकार ने योजना को शुरू किया था मान लीजिए कई बार ऐसा होता हैं कि घर में कमाने वाला एक ही मुखिया हैं औंर उसकी दुर्घटना में मृत्यु हो जाती हैं या फिर उसकी हालत ऐसी हो जाती हैं कि वो अब अपने परिवार के लिए कमाने लायक स्थिति में नही रहता हैं। तो इस स्थिति को संभालने के लिए सरकार ने इस योजना को चलाया हैं ताकि उस पीडित परिवार को इस दुख की घडी में सहायता मिल सके औंर वह परिवार इस दुख से उभर सके।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *