जाने हरियाणा के किन 4 जि‍लो को मिली नई रेलवे लाइन की सौगात

New railway line Haryana: हरियाणा सरकार ने हरियाणा वासियो को रेलवे लाइन की बड़ी सोगात दी है| ये रेलवे लाइन करनाल से यमुनानगर के बीच 64.4 किलोमीटर लंबी होगी| रेल परियोजना की लागत 883 करोड़ है| योजना 4 साल में पूरी करने का लक्ष्य रखा गया है|

New railway line Haryana

माननिय मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल खट्टर जी ने हरियाणा के वासियो के लिए New railway line Haryana की परियोजना को शुरू किया है| हरियाणा सरकार ने 20 जुलाई को परियोजना की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (DPR) को मंजूरी दी है।

new railway line haryana copy
new railway line haryana copy

करनाल के स्टेशन से शुरू होगी

दिल्ली अंबाला रेलवे लाइन पर मोजुदा करनाल रेलवे स्टेशन से शुरू की जाएगी| ये रेलवे लाइन सहारनपुर रेलवे लाइन पर जगाधरी रेलवे स्टेशन से जुडेगी| करनाल से यमुनानगर तक रेलमार्ग की दूरी 121 कि.मी है| करनाल से यमुनानगर तक सड़क के रास्ते की दूरी 67 किलोमीटर है| परियोजना के अंतरगत इस रेलमार्ग की दूरी केवल 64.6 किलोमीटर होगी| अगर दूसरे शब्दो में कहे तो इस रास्ते का ये सबसे छोटा लिंक होगा| मतलब ये रेललाइन इस एरिया के विकास में बहुत मदद करेगी|

also read-Pm Fasal Bima Yojna(PMFBY)

इन 4 जिलों को होगा फायदा

वही हरियाणा में इस नई रेलवे लाइन से इन चार जिलों को फायदा मिलेगा| फ़िलहाल इस मामले में रेल मंत्रालय द्वारा  South Haryana Economic Rail Corridor को सर्वे  की मंजूरी मिली है| अब उत्तर पश्चिम रेलवे की मंजूरी मिलते ही रेलवे बोर्ड से लेडार सर्वे का बजट सेंक्शन करवाया जायेगा| वही साउथ हरियाणा रेल कॉरिडोर का रुट फरुखनगर से लोहारू, दादरी, झज्जर, चरखी दादरी होगा| जिसके तहत झज्जर जिले में दादरी, झज्जर, ग्वालिसन, छुछकवास, मातनहेल, बिरोहड़- खाचरोली स्टेशन भी शामिल है|

aims of new railway line Haryana

  1. योजना  का मुख्य उदेश्य है व्यापार को बढ़ावा देना|
  2. करनाल, पानीपत और मध्य हरियाणा के अन्य हिस्सों को सीधा संपर्क प्रदान करना |
  3. करनाल-यमुनानगर आने जाने में समय की बचत होगी|
  4. योजना से  हरियाणा में रेलवे परियोजना को बाल मिलेगा|
  5. परियोजना के अंतरगत इस रेलमार्ग की दूरी केवल6 किलोमीटर होगी|

Benefits of new railway line Haryana

  • करनाल-यमुनानगर रेल लाइन कलानौर में ईस्टर्न डेडिकेटेड फ्रेट कॉरिडोर के लिए फीडर रूट कनेक्टिविटी प्रदान करेगी|
  • जिससे करनाल-यमुनानगर क्षेत्र में लॉजिस्टिक पार्कों के विकास में मदद मिलेगी।
  • कनेक्टीविटी बढ़ने के साथ साथ इंद्री, लाडवा और रादौर के प्लाईवुड एवं लकड़ी, औद्योगिक उत्पादों, धातु उद्योग, उर्वरकों आदि के लिए बाजार तक त्वरित पहुंच उपलब्ध कराएगी। 
  • करनाल, पानीपत और मध्य हरियाणा के अन्य हिस्सों को सीधा संपर्क प्रदान करते हुए यह नई लाइन पूर्वी डीएफसी के लिए एक फीडर मार्ग के रूप में कार्य करेगी|
  • जिसमें कलानौर स्टेशन (यमुनानगर के साथ) पर रेलवे के साथ इंटरचेंज पॉइंट होगा।
  • यह परियोजना हरियाणा के दक्षिणी एवं पश्चिमी हिस्सों को पवित्र शहर हरिद्वार से सीधे जोड़ेगी।

Haryana Matrushakti Udyamita Yojana

Haryana Free Tablet Yojana 2022

Leave a Comment